Nice Line

Long beautiful message for family, friends…..

Ⓜ kya khoob likha hai kisine
 
 आगे सफर था और पीछे हमसफर था..
 
 रूकते तो सफर छूट जाता और चलते तो हमसफर छूट जाता..
 
 मंजिल की भी हसरत थी और उनसे भी मोहब्बत थी..
 
 ए दिल तू ही बता,उस वक्त मैं कहाँ जाता...
 
 
 मुद्दत का सफर भी था और बरसो
  का हमसफर भी था
 
 रूकते तो बिछड जाते और चलते तो बिखर जाते....
 
 यूँ समँझ लो,
 
 प्यास लगी थी गजब की...
 मगर पानी मे जहर था...
 
 
 पीते तो मर जाते और ना पीते तो भी मर जाते.
 
 बस यही दो मसले, जिंदगीभर ना हल हुए!!!
 ना नींद पूरी हुई, ना ख्वाब मुकम्मल हुए!!!
 
 
 वक़्त ने कहा.....काश थोड़ा और सब्र होता!!!
 सब्र ने कहा....काश थोड़ा और वक़्त होता!!!
 
 
 सुबह सुबह उठना पड़ता है कमाने के लिए साहेब...।। 
 आराम कमाने निकलता हूँ आराम छोड़कर।।
 
 
 "हुनर" सड़कों पर तमाशा करता है और "किस्मत" महलों में राज करती है!!
 
 "शिकायते तो बहुत है तुझसे ऐ जिन्दगी, 
 
 पर चुप इसलिये हु कि, जो दिया तूने,
  वो भी बहुतो को नसीब नहीं होता"..
 अजीब सौदागर है ये वक़्त भी!!!!
 जवानी का लालच दे के बचपन ले गया....
 
 अब अमीरी का लालच दे के जवानी ले जाएगा. ......
 
 लौट आता हूँ वापस घर की तरफ... हर रोज़ थका-हारा,
 आज तक समझ नहीं आया की जीने के लिए काम करता हूँ या काम करने के लिए जीता हूँ।
 बचपन में सबसे अधिक बार पूछा गया सवाल -
 "बङे हो कर क्या बनना है ?"
 जवाब अब मिला है, - "फिर से बच्चा बनना है.
 
 “थक गया हूँ तेरी नौकरी से ऐ जिन्दगी
 मुनासिब होगा मेरा हिसाब कर दे...!!”
 
 दोस्तों से बिछड़ कर यह हकीकत खुली... 
 
 बेशक, कमीने थे पर रौनक उन्ही से थी!!
 
 भरी जेब ने ' दुनिया ' की पहेचान करवाई और खाली जेब ने ' अपनो ' की.
 
 जब लगे पैसा कमाने, तो समझ आया,
 शौक तो मां-बाप के पैसों से पुरे होते थे,
 अपने पैसों से तो सिर्फ जरूरतें पुरी होती है। ...!!!
 
 हंसने की इच्छा ना हो...
 तो भी हसना पड़ता है...
 .
 कोई जब पूछे कैसे हो...??
 तो मजे में हूँ कहना पड़ता है...
 .
 
 ये ज़िन्दगी का रंगमंच है दोस्तों....
 यहाँ हर एक को नाटक करना पड़ता है.
 
 "माचिस की ज़रूरत यहाँ नहीं पड़ती...
 यहाँ आदमी आदमी से जलता है...!!"
 
 दुनिया के बड़े से बड़े साइंटिस्ट,
 ये ढूँढ रहे है की मंगल ग्रह पर जीवन है या नहीं,
 
 पर आदमी ये नहीं ढूँढ रहा
 कि जीवन में मंगल है या नहीं।
 
 मंदिर में फूल चढ़ा कर आए तो यह एहसास हुआ कि...
 
 पत्थरों को मनाने में ,
 फूलों का क़त्ल कर आए हम 
 
 गए थे गुनाहों की माफ़ी माँगने ....
 वहाँ एक और गुनाह कर आए हम ।। 
 अगर दिल को छु जाये तो शेयर जरूर करे..
 ▄▄
 (●_●)
 ╚═►
🍌🍎🍏🍊🌞🌿😄
 आज का विचार:
 
 चिड़िया 🐥जब जीवित रहती है
            तब वो किड़े-मकोड़े🐛 को खाती है।
 
 और चिड़िया🐣 जब मर जाती है तब
            किड़े-मकोड़े🐛 उसको खा जाती है। 
 ☝
 इसलिए इस बात का ध्यान रखो की समय और स्थिति कभी भी बदल सकते है.
 
 👍इसलिए कभी किसी का अपमान मत करो 
 👍कभी किसी को कम मत आंको। 
 👍तुम शक्तिशाली हो सकते हो पर समय तुमसे भी शक्तिशाली है।
 👍एक पेड़ से लाखो माचिस की तिलियाँ बनाई जा सकती है।
 👍 पर एक माचिस की तिली से लाखो पेड़ भी जल सकते है।
 
 👍कोई चाहे कितना भी महान क्यों ना हो जाए, पर कुदरत कभी भी किसी को महान  बनने का मौका नहीं देती।
 
 👉कंठ दिया कोयल को, तो रूप छीन लिया ।
 👉रूप दिया मोर को, तो ईच्छा छीन ली ।
 👉दी ईच्छा इन्सान को, तो संतोष छीन लिया ।
 👉दिया संतोष संत को, तो संसार छीन लिया।
 😐😐😐😐😐😐😐😐😐
 
 ☝मत करना कभी भी ग़ुरूर अपने आप पर 'ऐ इंसान'
 ☝ भगवान ने तेरे और मेरे जैसे कितनो को मिट्टी से बना कर, मिट्टी में मिला दिए ।
 🔆🔆🔆🔆🔆🔆🔆🔆🔆
 👉 इंसान दुनिया में तीन चीज़ो के लिए मेहनत करता है
 
 1-मेरा नाम ऊँचा हो .
 २ -मेरा लिबास अच्छा हो .
 3-मेरा मकान खूबसूरत हो ..
 
 लेकिन इंसान के मरते ही भगवान उसकी तीनों चीज़े
 सबसे पहले बदल देता है
 
 १- नाम = (स्वर्गीय )
 २- लिबास = (कफन )
 ३-मकान = ( श्मशान )
 
 जीवन की कड़वी सच्चाई जिसे हम समझना नहीं चाहते  👈
 👌👌👌👌👌
 ये चन्द पंक्तियाँ 
 जिसने भी लिखी है 
 खूब लिखी है।
 
 एक पत्थर सिर्फ एक बार मंदिर जाता है और भगवान बन जाता है ..
 इंसान हर रोज़ मंदिर जाते है फिर भी पत्थर ही रहते है ..!!
 👍 NICE LINE👌
 एक औरत बेटे को जन्म देने के लिये अपनी सुन्दरता त्याग देती है.......
 और
 वही बेटा एक सुन्दर बीवी के लिए अपनी माँ को त्याग देता है
 ********[**********]***** 
 जीवन में हर जगह
 हम "जीत" चाहते हैं...
 सिर्फ फूलवाले की दूकान ऐसी है
 जहाँ हम कहते हैं कि हमें
 "हार" चाहिए।
 ➖♦➖♦➖♦➖
  ये ज़िन्दगी जैसी भी है,
 बस एक ही बार मिलती है।
 ये message जरुर सबको भेजना .
पानी से तस्वीर
             कहाँ बनती है,
 ख्वाबों से तकदीर
             कहाँ बनती है,
 किसी भी रिश्ते को
             सच्चे दिल से निभाओ,
 ये जिंदगी फिर
             वापस कहाँ मिलती है
 कौन किस से
             चाहकर दूर होता है,
 हर कोई अपने
             हालातों से मजबूर होता है,
 हम तो बस
             इतना जानते हैं...
 हर रिश्ता "मोती" और
             हर दोस्त "कोहिनूर" होता है।।।
 
 🌀💦🌀💦🌀💦🌀💦
 ❤💛❤💛❤💛❤💛
 और इसलिए कहते है... 
 ❤💛❤💛❤💛❤💛
 
 कोई टूटे💔 तो उसे सजाना💞 सीखो,
 कोई रुठे🙍 तो उसे मनाना🙋 सीखो ...
 🌷💐🍀🌹🌻🌺🌼🌷
 
 रिश्ते तो मिलते है मुकद्दर से,
 बस उन्हे खूबसूरती💗 से निभाना सीखों।
 💛❤💙💕💓💜💚💖
 
 जन्म लिया है तो सिर्फ साँसे⚡ मत लीजिये,
 ❤💛❤💛❤💛❤💛
 जीने का शौक भी रखिये..
 👥👥👥👥👥👥👥👥
 ❤💛❤💛❤💛❤💛
 शमशान ऐसे लोगो की राख से...भरा पड़ा है
 जो समझते थे,,,
 ❤💛❤💛❤💛❤💛
 दुनिया उनके बिना चल नहीं सकती.
 💀💀💀💀💀💀💀💀
 ❤💛❤💛❤💛❤💛
 हाथ में टच📲 फ़ोन, 
 बस स्टेटस के लिये अच्छा है…
 ❤💛❤💛❤💛❤💛
 सबके टच में रहो, 
 जींदगी के लिये ज्यादा अच्छा है…
 🔥🔥🔥🔥🔥🔥🔥🔥
 ❤💛❤💛❤💛❤💛
 ज़िन्दगी में ना ज़ाने कौनसी बात "आख़री" होगी!
 ना ज़ाने कौनसी रात🌌 "आख़री" होगी ।
 👬👭👬👭👬👭👬👭
 ❤💛❤💛❤💛❤💛
 मिलते, जुलते, बातें करते रहो यार एक दूसरे से,
 ना जाने कौनसी "मुलाक़ात" आख़री होगी...
 ✋✋✋✋✋✋✋✋
  🏢स्कूल की दोस्ती👯
   🌺10th क्लास तक 🌺
 👫यूनिवर्सिटी की दोस्ती👯
     🌹फाइनल इअर तक 🌹
   🏫ऑफिस की दोस्ती👯
  🌸 रिटायरमेंट तक 🌸
 💑 लवर की दोस्ती 👯 
       💐 शादी तक 💐
 
         💝.....But....💝
 
    👆  हमारी दोस्ती  👯
        👈 आप से 👉
 ❤💛❤💛❤💛❤💛
       🌜30- फरवरी तक🌛
 ❤💛❤💛❤💛❤💛
        🌞......क्योंकि......🌞
 ❤💛❤💛❤💛❤💛
 👏ना कभी 30 फरवरी आयेगी😉
 ना कभी हमारी दोस्ती 👯 का end  होगा✌👏👏 👍
 ❤💛❤💛❤💛❤💛
 Note:
 👉ये मैसेज उन दोस्तों👯 को भेजो जिनका साथ 👫👭 आप पूरी जिंदगी भर नही छोड़ना चाहते ☺
 ❤💛❤💛❤💛❤💛
 👆मुझे भी करें अगर आप मुझे खोना नही चाहते हैं तो 😜😁
 ❤💛❤💛❤💛❤💛
 ये मैसेज सबको सेंन्ड करो और देखो कितने लोग आपको खोना नही चाहते.
1990 Birth waale jarroor Pade Acchi Wali Feelings Aayengi Jaroor pade... ☺
 
 हम लोग,
 जो 1947. से  1999
  के बीच जन्में  है,
  We are blessed because,
 
         
 
 👍     हमें कभी भी 
 
 
 👌हमारें माता- पिता को
  हमारी पढाई को लेकर 
 कभी अपने programs 
 आगे पीछे नही करने पड़ते थे...!
 
 👍    स्कूल के बाद हम 
 देर सूरज डूबने तक खेलते थे   
 
 👍    हम अपने 
 real दोस्तों के साथ खेलते थे; 
 net फ्रेंड्स के साथ नही ।
 
 👍     जब भी हम प्यासे होते थे 
 तो नल से पानी पीना 
 safe होता था और 
 हमने कभी mineral water bottle को नही ढूँढा । 
 
 👍     हम कभी भी चार लोग 
 गन्ने का जूस उसी गिलास से ही
 पी करके भी बीमार नही पड़े ।
 
 👍     हम एक प्लेट मिठाई 
 और चावल रोज़ खाकर भी 
 बीमार  नही हुए ।
 
 👍     नंगे पैर घूमने के बाद भी
  हमारे पैरों को कुछ नही होता था ।
 
 👍     हमें healthy रहने 
 के लिए  Supplements नही 
 लेने पड़ते थे ।
 
 👍     हम कभी कभी अपने खिलोने 
 खुद बना कर भी खेलते थे ।
 
 👍     हम ज्यादातर अपने parents के साथ या  grand- parents के पास ही रहे ।
 
 👌हम अक्सर 4/6 भाई बहन 
 एक जैसे कपड़े पहनना 
 शान समझते थे.....
 common. वाली नही 
 एकतावाली  feelings ...
 enjoy करते थे
 
 👍     हमारे पास 
 न तो Mobile,  DVD's, 
 PlayStation, Xboxes, 
 PC, Internet, chatting,
 क्योंकि 
 हमारे पास real दोस्त थे ।
 
 👍     हम दोस्तों के घर
  बिना बताये जाकर 
 मजे करते थे और 
 उनके साथ खाने के 
 मजे लेते थे। 
 कभी उन्हें कॉल करके 
 appointment नही लेना पड़ा ।
 
 👍     हम एक अदभुत और 
 सबसे समझदार पीढ़ी है क्योंकि 
 हम अंतिम पीढ़ी हैं जो की 
 अपने parents की सुनते हैं...
 और 
 साथ ही पहली पीढ़ी 
 जो की 
 अपने बच्चों की सुनते हैं । 
 
 We are not special, 
 but. 
 We are 
 LIMITED EDITION 
 and we are enjoying the 
 Generation                   Gap......
 
  share if u r agree  
 *तेरी बुराइयों* को हर *अख़बार* कहता है,
 और तू मेरे *गांव* को *गँवार* कहता है   //
 
 *ऐ शहर* मुझे तेरी *औक़ात* पता है  //
 तू *चुल्लू भर पानी* को भी *वाटर पार्क* कहता है  //
 
 *थक*  गया है हर *शख़्स* काम करते करते  //
 तू इसे *अमीरी* का *बाज़ार* कहता है।
 
 *गांव*  चलो *वक्त ही वक्त*  है सबके पास  !!
 तेरी सारी *फ़ुर्सत* तेरा *इतवार* कहता है //
 
 *मौन*  होकर *फोन* पर *रिश्ते* निभाए जा रहे हैं  //
 तू इस *मशीनी दौर*  को *परिवार* कहता है //
 
 जिनकी *सेवा* में *खपा*  देते थे जीवन सारा,
 तू उन *माँ बाप*  को अब *भार* कहता है  //
 
 *वो* मिलने आते थे तो *कलेजा* साथ लाते थे,
 तू *दस्तूर*  निभाने को *रिश्तेदार* कहता है //
 
 बड़े-बड़े *मसले* हल करती थी *पंचायतें* //
 तु  अंधी *भ्रष्ट दलीलों* को *दरबार*  कहता है //
 
 बैठ जाते थे *अपने पराये* सब *बैलगाडी* में  //
 पूरा *परिवार*  भी न बैठ पाये उसे तू *कार* कहता है  //
 
 अब *बच्चे* भी *बड़ों* का *अदब* भूल बैठे हैं //
 तू इस *नये दौर*  को *संस्कार* कहता है  *.//*
 
किसी मित्र ने पोस्ट किया था जिसे पढ़ने के बाद मैं रोक न सका और आप सभी के बिच समर्पित किया !!
*Really Very Nice*
 ----------------------------------
 जो चाहा
 कभी पाया नहीं,
 
 जो पाया
 कभी सोचा नहीं,
 
 जो सोचा
 कभी मिला नहीं,
 
 जो मिला
 रास आया नहीं,
 
 जो खोया
 वो याद आता है,
 
 पर जो पाया
 संभाला जाता नहीं ,
 
 क्यों
 अजीब सी पहेली है ज़िन्दगी,
 
 जिसको
 कोई सुलझा पाता नहीं...
 
 जीवन में
 कभी समझौता करना पड़े
 तो कोई बड़ी बात नहीं है,
 
 क्योंकि,
 
 झुकता वही है
 जिसमें जान होती है,
 
 अकड़ तो
 मुरदे की पहचान होती है।
 
 ज़िन्दगी जीने के
 दो तरीके होते है!
 
 पहला:
 जो पसंद है
 उसे हासिल करना सीख लो.!
 
 दूसरा:
 जो हासिल है
 उसे पसंद करना सीख लो.!
 
 जिंदगी जीना
 आसान नहीं होता;
 
 बिना संघर्ष
 कोई महान नहीं होता.!
 
 जिंदगी
 बहुत कुछ सिखाती है;
 
 कभी हँसती है
 तो कभी रुलाती है;
 
 पर जो हर हाल में खुश रहते हैं;
 
 जिंदगी उनके आगे
 सर झुकाती है।
 
 चेहरे की हँसी से
 हर गम चुराओ;
 
 बहुत कुछ बोलो
 पर कुछ ना छुपाओ;
 
 खुद ना रूठो कभी
 पर सबको मनाओ;
 
 राज़ है ये जिंदगी का
 बस जीते चले जाओ।
 
 "गुजरी हुई जिंदगी
  कभी याद न कर,
 
 तकदीर में जो लिखा है
 उसकी फरियाद न कर...
 
 जो होगा वो होकर रहेगा,
 
 तु कल की फिकर में
 अपनी आज की हँसी
 बर्बाद न कर...
 
  हंस मरते हुए भी गाता है
 और मोर नाचते हुए भी
 रोता है....
 
 ये जिंदगी का फंडा है बॉस
 
 दुःखों  वाली रात
 नींद  नही आती
 
 और खुशी वाली रात
 कौन सोता है...
           🌾🌾🌾
 ईश्वर का दिया
 कभी अल्प नहीं होता;
 
 जो टूट जाये
 वो संकल्प नहीं होता;
 
 हार को
 लक्ष्य से दूर ही रखना;
 
 क्योंकि जीत का
 कोई विकल्प नहीं होता।
            🌾🌾🌾
 जिंदगी में दो चीज़ें
 हमेशा टूटने के लिए ही होती हैं :
 
 "सांस और साथ"
 
 सांस टूटने से तो
 इंसान 1 ही बार मरता है;
 
 पर किसी का साथ टूटने से
 इंसान पल-पल मरता है।
            🌾🌾🌾
 जीवन का
 सबसे बड़ा अपराध -
 
 किसी की आँख में आंसू
 आपकी वजह से होना।
 
 और जीवन की
 सबसे बड़ी उपलब्धि -
 
 किसी की आँख में आंसू
 आपके लिए होना।
             🌾🌾🌾
 जिंदगी जीना
 आसान नहीं होता;
 
 बिना संघर्ष
 कोई महान नहीं होता;
 
 जब तक न पड़े
 हथोड़े की चोट;
 
 पत्थर भी
 भगवान नहीं होता।
            🌾🌾🌾
 जरुरत के मुताबिक जिंदगी जीओ
 ख्वाहिशों के मुताबिक नहीं।,
 
 क्योंकि जरुरत तो
 फकीरों की भी पूरी हो जाती है;
 
 और ख्वाहिशें बादशाहों की भी
 अधूरी रह जाती है।
           🌾🌾🌾
 
 मनुष्य सुबह से शाम तक
 काम करके उतना नहीं थकता;
 
 जितना क्रोध और चिंता से
 एक क्षण में थक जाता है।
             🌾🌾🌾
 दुनिया में
 कोई भी चीज़ अपने आपके लिए
 नहीं बनी है।
 
 जैसे: दरिया
 खुद अपना पानी नहीं पीता।
 
 पेड़ -
 खुद अपना फल नहीं खाते।
 
 सूरज -
 अपने लिए हर रात नहीं देता।
 
 फूल -
 अपनी खुशबू
 अपने लिए नहीं बिखेरते।
 
 मालूम है क्यों?
 
 क्योंकि दूसरों के लिए ही
 जीना ही असली जिंदगी है।
            🌾🌾🌾
 मांगो
 तो अपने रब से मांगो;
 
 जो दे तो रहमत
 और न दे तो किस्मत;
 
 लेकिन दुनिया से
 हरगिज़ मत माँगना;
 
 क्योंकि दे तो एहसान
 और न दे तो शर्मिंदगी।
            🌾🌾🌾
 कभी भी
 'कामयाबी' को दिमाग
 और 'नकामी' को दिल में
 जगह नहीं देनी चाहिए।
 
 क्योंकि,
 
 कामयाबी
 दिमाग में घमंड
 और नकामी दिल में
 मायूसी पैदा करती है।
            🌾🌾🌾
 कौन देता है
 उम्र भर का सहारा।,
 
 लोग तो जनाज़े में भी
 कंधे बदलते रहते हैं।
            🌾🌾🌾
 कोई व्यक्ति
 कितना ही महान क्यों न हो,
 
 आंखे मूंदकर
 उसके पीछे न चलिए।
 
 यदि ईश्वर की
 ऐसी ही मंशा होती
 तो वह हर प्राणी को
 आंख,
 नाक,
 कान,
 मुंह,
 मस्तिष्क आदि क्यों देता?
 
 🙏
 अच्छा लगा तो
 share जरुर करे !
 
 💦
 Nice Lines
 🌀💦🌀💦🌀💦🌀
 पानी से
 तस्वीर कहाँ बनती है,
 
 ख्वाबों से
 तकदीर कहाँ बनती है,
 
 किसी भी रिश्ते को
 सच्चे दिल से निभाओ,
 
 ये जिंदगी
 फिर वापस कहाँ मिलती है,
 
 कौन किस से
 चाहकर दूर होता है,
 
 हर कोई अपने हालातों से
 मजबूर होता है,
 
 हम तो
 बस इतना जानते हैं, 
 हर रिश्ता "मोती"
 और हर दोस्त
 "कोहिनूर" 💎 होता है।
 🌀💦🌀💦🌀💦
 🌀💦🌀
*ऐ मेरे स्कूल मुझे,*
  *जरा फिर से तो बुलाना..*
 कमीज के बटन 
 ऊपर नीचे लगाना,
 वो अपने बाल 
 खुद न संवार पाना,
 पी टी शूज को 
 चाक से चमकाना,
 वो काले जूतों को 
 पैंट से पोंछते जाना...
 *😔 ऐ मेरे स्कूल मुझे,*
 *जरा फिर से तो बुलाना...*
 😊 😊 😊 😊 😊
 वो बड़े नाखुनों को
 दांतों से चबाना,
 और लेट आने पर 
 मैदान का चक्कर लगाना,
 वो प्रेयर के समय 
 क्लास में ही रुक जाना,
 पकड़े जाने पर 
 पेट दर्द का बहाना बनाना...
 *😔 ऐ मेरे स्कूल मुझे,*
 *जरा फिर से तो बुलाना...*
 😊 😊 😊 😊 😊
 वो टिन के डिब्बे को
 फ़ुटबाल बनाना,
 ठोकर मार मार कर
 उसे घर तक ले जाना,
 साथी के बैठने से पहले 
 बेंच सरकाना,
 और उसके गिरने पे 
 जोर से खिलखिलाना...
 *😔 ऐ मेरे स्कूल मुझे,*
 *जरा फिर से तो बुलाना...*
 😊 😊 😊 😊 😊
 गुस्से में एक-दूसरे की
 कमीज पे स्याही छिड़काना,
 वो लीक करते पेन को
 बालों से पोंछते जाना,
 बाथरूम में सुतली बम पे 
 अगरबत्ती लगाकर छुपाना,
 और उसके फटने पे
 कितना मासूम बन जाना...
 *😔 ऐ मेरे स्कूल मुझे'*
 *जरा फिर से तो बुलाना...*
 😊 😊 😊 😊 😊
 वो Games Period 
 के लिए Sir को पटाना,
 Unit Test को टालने के लिए 
 उनसे गिड़गिड़ाना,
 जाड़ो में बाहर धूप में 
 Class लगवाना,
 और उनसे घर-परिवार के 
 किस्से सुनते जाना...
 *😔 ऐ मेरे स्कूल मुझे,
 जरा फिर से तो बुलाना...*
 😊 😊 😊 😊 😊
 वो बेर वाली के बेर 
 चुपके से चुराना,
 लाल–पीला चूरन खाकर
 एक दूसरे को जीभ दिखाना,
 खट्टी मीठी इमली देख 
 जमकर लार टपकाना,
 साथी से आइसक्रीम खिलाने 
 की मिन्नतें करते जाना...
 *😔 ऐ मेरे स्कूल मुझे,*
 *जरा फिर से तो बुलाना...*
 😊 😊 😊 😊 😊
 वो लंच से पहले ही 
 टिफ़िन चट कर जाना,
 अचार की खुशबू 
 पूरे Class में फैलाना,
 वो पानी पीने में 
 जमकर देर लगाना,
 बाथरूम में लिखे शब्दों को 
 बार-बार पढ़के सुनाना...
 😔 ऐ मेरे स्कूल मुझे,
 जरा फिर से तो बुलाना...
 😊 😊 😊 😊 😊
 वो Exam से पहले 
 गुरूजी के चक्कर लगाना,
 लगातार बस Important
 ही पूछते जाना,
 वो उनका पूरी किताब में 
 निशान लगवाना,
 और हमारा ढेर सारे Course 
 को देखकर सर चकराना...
 *😔 ऐ मेरे स्कूल मुझे,*
 *जरा फिर से तो बुलाना...*
 😊 😊 😊 😊 😊
 वो मेरे स्कूल का मुझे, 
 यहाँ तक पहुँचाना,
 और मेरा खुद में खो 
 उसको भूल जाना,
 बाजार में किसी 
 परिचित से टकराना,
 वो जवान गुरूजी का
 बूढ़ा चेहरा सामने आना...
 तुम सब अपने स्कूल
 एक बार जरुर जाना...😞😞😞
Pura jarur padhna
 👗 कपड़े हो गए छोटे
 🙈 लाज कहाँ से आए
 🍞रोटी हो गई ब्रैड 
 💪 ताकत कहाँ से आए
 🌺 फूल हो गए प्लास्टिक के
 ♨ खुशबू कहाँ से आए
 👸चेहरा हो गया मेकअप का
 👸🏿 रूप कहाँ से आए
 👨 शिक्षक हो गए टयुशन के
 📚 विद्या कहाँ से आए
 🍱 भोजन हो गए होटल के
 ✊ तंदरुस्ती कहाँ से आए
 📺 प्रोग्राम हो गए केबल के
 🙏 संस्कार कहाँ से आए
 💵 आदमी हो गए पैसे के
 🙉 दया कहाँ से आए
 🏭 धंधे हो गए हायफाय
 🎄 बरकत कहाँ से आए
 🔐 ताले हौ गए पासवर्ड
 🎁 सैफटी कहाँ से आए
 👳 भक्त हो गए स्वार्थी
 👤 भगवान कहाँ से आए
 👫 रिश्तेदार  हो गये व्हाट्सऐप पे
 💃🏃 मिलने कहाँ से आए
 😂😂😪😥😰😂😂
 : मंदिर के बाहर लिखा हुआ एक खुबसुरत सच......
 "अगर उपवास करके भगवान खुश होते,
 तो इस दुनिया में बहुत दिनो तक खाली पेट
 रहनेवाला भिखारी सबसे सुखी इन्सान होता..
 उपवास अन्न का नही विचारों का करे....
 
 इंसान खुद की नजर में सही होना चाहिए, दुनिया तो भगवान से भी दुखी है!

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *